Ram Rahim Parole Case : राम रहीम नहीं है किसान , पैरोल मिलना होगा मुश्किल Ram Rahim Parole Case : राम रहीम नहीं है किसान , पैरोल मिलना होगा मुश्किल
BREAKING NEWS
Search
Ram Rahim Parole

राम रहीम सरकारी रिकॉर्ड में नहीं है किसान , खेती के लिए पैरोल मिलना होगा मुश्किल

37

सिरसा: Ram Rahim Parole case : रोहतक की Sunaria Jail में Rape और Murder के मामले में सजा काट रहे Dera Sacha Sauda Head Gurmit Ram Rahim को Agriculture के लिए Parole मिलना मुश्किल लग रहा है।

Gurmit Ram Rahim Parole Case Detail

तहसीलदार सिरसा ने रिपोर्ट में बताया है कि डेरे के पास कुल 250 एकड़ Agricultural land है। इसमें कहीं भी Ram Rahim मालिक या काश्तकार नहीं है। सारी भूमि Dera Sacha Sauda Trust के ही नाम है। इसी वजह से प्रशासन की नजर में Parole का आधार नहीं बन रहा है।

अशोक कुमार गर्ग DC Sirsa ने बताया कि रिपोर्ट तैयार की जा रही है। इसे जल्द ही तैयार कर जेल प्रशासन को भेजा जाएगा। SSP Sirsa Arun Nehra ने बताया कि वे मैरिट के आधार पर ही फैसला लेंगे। वहीं, सिरसा प्रशासन की रिपोर्ट के बाद ही Sunaria Jail प्रशासन कोई फैसला लेगा।

प्रशासनिक सूत्रों ने Media को बताया किRam Rahim के बाहर आने पर सिरसा में कानून व्यवस्था कायम रखने में दिक्कत आ सकती है। 24 घंटे निगरानी रखना भी मुश्किल होगा। इसलिए Parole देने की सिफारिश के आसार न के बराबर हैं।

Ram Rahim parole case: अभी भी दो केस विचाराधीन

Gurmit Ram Rahim पर अभी भी दो केस CBI Court में विचाराधीन हैं। इनमें रणजीत सिंह की हत्या और साधुओं को नपुंसक बनाए जाने का केस है। वहीं, Panchkula और Sirsa हिंसा मामले में Aditiya Insa अभी तक फरार है। पुलिस उसे Most Wanted Criminal घोषित कर चुकी है। उस पर पांच लाख रुपए का इनाम भी है।

Parole हर कैदी का अधिकार : जेलमंत्री

Jail Minister Haryana कृष्ण लाल पंवार ने कहा, “किसी भी कैदी को Parole का अधिकार है। Ram Rahim ने पैरोल के लिए अपील की है, Ram Rahim Parole case पर Jail Superintendent ने जिला प्रशासन को पत्र लिखकर जवाब मांगा है। अब पैरोल पर फैसला लेने का काम जेल प्रशासन और पुलिस का है।”

क्या पैरोल देना उचित होगा : जेल अधीक्षक

Rohtak Jail Superintendent ने पैरोल के संबंध में Sirsa District Admin. से राय मांगी है। उन्होंने सिरसा प्रशासन को पत्र लिखकर कहा है कि गुरमीत का जेल में आचरण अच्छा है। उसने जेल में कोई अपराध भी नहीं किया। वह सजा का एक साल पूरा कर चुका है। वह हरियाणा का है, इसलिए पैरोल अधिनियम 2012 और 2013 के अंतर्गत हार्डकोर श्रेणी में नहीं आता। लेकिन उस पर अभी दो केस और लंबित हैं। क्या उसे पैरोल देना उचित होगा?’

Ram Rahim ने पिछले दिनों खेती करने का आधार बनाकर पैरोल की अर्जी लगाई थी सिरसा प्रशासन की रिपोर्ट में खुलासा- 250 एकड़ जमीन ट्रस्ट के नाम है बाबा राम रहीम साध्वी यौन शोषण और हत्या मामले में सुनारिया जेल में सजा काट रहा

ALSO READ : AZAD SOCH PUNJABI NEWSPAPER




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *